NetaJi Subhas Chandra Bose Statue at India Gate: इंडिया गेट पर लगेगी 'नेताजी सुभाष चंद्र बोस' की विशाल प्रतिमा, मूर्ति बनने तक दिखेगा होलोग्राम

Netaji Subhas Chandra Bose Statue at India Gate: इंडिया गेट पर दिखेंगे 'नेताजी', Canopy में लगेगी सुभाष चंद्र बोस की मूर्ति, PM Modi ने किया एलान 

इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की ग्रेनाइट से बनी भव्य प्रतिमा स्थापित की जाएगी. इस बात की जानकारी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी है. प्रधानमंत्री ने कहा कि जब तक नेताजी की ग्रेनाइट की प्रतिमा बनकर तैयार नहीं हो जाती तब तक उस स्थान पर होलोग्राम प्रतिमा को लगाया जाएगा.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती 23 जनवरी, 2022 को है. इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) इंडिया गेट (India Gate) पर उनकी भव्‍य प्रतिमा का के होलोग्राम का अनावरण करेंगे. पीएम मोदी ने कहा कि जब तक नेताजी बोस की भव्य प्रतिमा बनकर तैयार नहीं हो जाती, तब तक उनकी होलोग्राम प्रतिमा उसी स्थान पर मौजूद रहेगी. मैं 23 जनवरी को नेताजी की जयंती पर होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण करूंगा.


इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चन्द्र बोस प्रतिमा | Netaji Subhas Chandra Bose Statue at India Gate


इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चन्द्र बोस प्रतिमा | Netaji Subhas Chandra Bose Statue at India Gate

राजधानी दिल्ली (Delhi) में इंडिया गेट (India Gate) पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Subhas Chandra Bose Statue) की ग्रेनाइट से बनी भव्य प्रतिमा स्थापित की जाएगी. इस बात की जानकारी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने दी है.


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने नेताजी सुभाषचंद्र बोसजी की 125वीं जयंती पर ग्रेनाइट से बनी उनकी भव्यप्रतिमा को इंडिया गेट पर स्थापित किये जाने का निर्णय लिया है. नेताजी की प्रतिमा का कार्य पूरा होने तक उनकी होलोग्राम प्रतिमा वहां मौजूद रहेगी.


Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti 2022 : पराक्रम दिवस पर जानिये नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन से जुडी Top 10 महत्वपूर्ण तथ्य ...

पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा है, ''ऐसे समय में जब पूरा देश नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती मना रहा है, मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि ग्रेनाइट से बनी उनकी भव्य प्रतिमा इंडिया गेट पर स्थापित की जाएगी. यह उनके प्रति देश के आभार का प्रतीक होगा.'' उन्होंने आगे कहा, ''जब तक नेताजी बोस की भव्य प्रतिमा पूरी नहीं हो जाती, तब तक उनकी होलोग्राम प्रतिमा उसी स्थान पर मौजूद रहेगी. मैं नेताजी की जयंती 23 जनवरी को होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण करूंगा.''



जब तक असली मूर्ति पूरी नहीं हो जाती, तब तक इंडिया गेट पर नेताजी की एक होलोग्राम मूर्ति मौजूद रहेगी. नेताजी की 125वीं जयंती के मौके पर, 23 जनवरी को पीएम नरेंद्र मोदी इस मूर्ति का अनावरण करेंगे. इंडिया गेट और राष्ट्रीय समर स्मारक के बीच खाली खड़ी एक छतरी के नीचे बोस की मूर्ति लगाई जाएगी. 60 के दशक तक यहां जॉर्ज पंचम का बुत लगा था जिसे हटाकर कोरोनेशन पार्क में भेज दिया गया. नेताजी की इस प्रतिमा का आयाम 28 फीट बाय 6 फीट होगा.


दरअसल नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जन्मदिवस 23 जनवरी को आता है. उनके द्वारा किये गए कार्यो के लिए उन्हें सम्मान देने में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती. पिछले दिनों पहले ही मोदी सरकार ने फैसला किया था कि गणतंत्र दिवस समारोह की शुरुआत अब हर साल 24 जनवरी के बजाय 23 जनवरी को होगी. स्वतंत्रता संग्राम के वीर योद्धा सुभाष चंद्र बोस की जयंती इन समारोहों में शामिल होगी. इससे पहले बोस की जयंती को 'पराक्रम दिवस' के रूप में मनाने की शुरुआत की गई थी.


अमर जवान ज्योति - इंदिरा गांधी ने 1972 में किया था अमर जवान ज्योति का उद्घाटन

अमर जवान ज्योति की स्थापना उन भारतीय सैनिकों की याद में की गई थी, जोकि 1971 के भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए थे. इस युद्ध में भारत की विजय हुई थी और बांग्लादेश का गठन हुआ था. तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 26 जनवरी 1972 को इसका उद्घाटन किया था.

 

यह भी पढ़े

Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti 2022 : पराक्रम दिवस पर जानिये नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन से जुडी Top 10 महत्वपूर्ण तथ्य ...


Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: कब और क्यों मनाई जाती है नेताजी सुभाष चंद्र बोस जयंती? जानें, नेताजी सुभाष चंद्र बोस जयंती का महत्व


Republic Day 2022 : आखिर 26 जनवरी को ही आखिर क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस, जानें इस दिन से जुड़ी ख़ास बातें, इतिहास, महत्व


Indian Army Day 2022 : आखिर हर साल क्यों मनाया जाता है 15 जनवरी को सेना दिवस? जानिए इस दिन के इतिहास के बारे में

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने