Republic Day 2022 unknown facts hindi: जानिए गणतंत्र दिवस से जुड़े रोचक बातें तथा हर वो सवाल का जवाब जो आप नहीं जानते

Top amazing facts about Republic Day 2022 hindi : जानिए गणतंत्र दिवस से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण तथा रोचक तथ्‍य जो शायद आप नहीं जानते | Top lesser known facts about Republic Day 2022 hindi


गणतंत्र दिवस भारत की आजादी के बाद 26 जनवरी 1950 से प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है. हर भारतीय के लिए 26 जनवरी का दिन काफी महत्व होता है. इस वर्ष भारत अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. गणतंत्र दिवस हमारा राष्ट्रीय पर्व है. 26 जनवरी के इस अवसर पर सरकारी अवकाश होता है.

हमारा संविधान विश्‍व का सबसे बड़ा संविधान माना जाता है. डॉ. भीमराव अंबेडकर (B. R. Ambedkar) ने संविधान को दो साल, 11 महीने और 18 दिनों में तैयार कर राष्ट्र को समर्पित किया था. 26 जनवरी 1950 को भारतीय संविधान लागू होने के कारण इस दिन गणतंत्र दिवस मनाया जाता है. जानिए इससे जुड़े कुछ सवाल और जवाब-

गणतंत्र दिवस भारत की आजादी के बाद 26 जनवरी 1950 से प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है। इस दिन भारत का अपना संविधान लागू हुआ था और भारत एक लोकतंत्र से नवाजा गया था, और इस अवसर पर सरकारी अवकाश होता है. भारतीय गणतंत्र दिवस 2022 में 73वीं बार मनाया जाएगा. गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर आइये जानते है, गणतंत्र दिवस से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण तथा रोचक तथ्‍य जो शायद आप नहीं जानते.

26 January | गणतंत्र दिवस | Republic Day 2022

गणतंत्र दिवस (26 January) क्या है? | What is Republic Day in Hindi?


गणतंत्र दिवस (Republic Day) भारत का राष्ट्रीय पर्व है. इसे हर साल 26 जनवरी को धूमधाम से मनाया जाता है. भारत में हर साल 26 जनवरी (26 January) को गणतंत्र दिवस (Republic Day) मनाया जाता है. इस साल देश 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. देश में गणतंत्र दिवस (रिपब्लिक डे) के अवसर पर स्कूल-कॉलेजों में कार्यक्रम होते हैं और इस दिन राष्ट्रीय अवकाश रहता है. आइये आपको गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथा सवालों के जवाब देते हैं. ताकि आप भी भारत के राष्ट्रीय पर्व के बारे में बेहतर तरीके से जान सकें. 

गणतंत्र दिवस (26 January) क्यों मनाया जाता है? | Why Republic Day (26 January) is celebrated in hindi?


स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश में कानून का राज स्थापित करने के लिए 26 नवंबर 1949 को भारतीय संविधान सभा ने संविधान अपनाया था. 26 जनवरी 1950 को संविधान को लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया था. एक स्वतंत्र गणराज्य बनने के लिए भारतीय संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को संविधान अपनाया गया था, लेकिन इसे 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया था. इस दिन भारत को पूर्ण गणतंत्र घोषित किया गया था. इसलिए 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाई जाती है.

26 January | गणतंत्र दिवस | Republic Day 2022

26 जनवरी 1930 को क्या हुआ था? | What happened on 26 January 1930 in hindi?


26 जनवरी 1930 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था. इस दिन पहली बार भारत का स्वतंत्रता दिवस मनाया गया था. 15 अगस्त 1947 को आजादी मिलने तक 26 जनवरी को ही स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता था. 26 जनवरी 1930 को पूर्ण स्वराज घोषित करने की तारीख को महत्व देने के लिए 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू किया गया और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस घोषित किया गया.

गणतंत्र दिवस (26 January) का इतिहास क्या है? | History of Republic Day in hindi?


वर्ष 1929 की दिसंबर में लाहौर में पंडित जावरहलाल नेहरू की अध्यक्षता में कांग्रेस का अधिवेशन किया गया था. इस अधिवेशन में प्रस्ताव पारित करते हुए इस बात की घोषणा की गई कि यदि अंग्रेज सरकार द्वारा 26 जनवरी 1930 तक भारत को डोमीनियन का दर्जा नहीं दिया गया तो भारत को पूर्ण रूप से स्‍वतंत्र देश घोषित कर दिया जाएगा.

26 जनवरी 1930 तक जब अंग्रेज सरकार ने कुछ नहीं किया तब कांग्रेस ने उस दिन भारत की पूर्ण स्वतंत्रता के निश्चय की घोषणा की और अपना सक्रिय आंदोलन आरंभ किया. उस दिन से 1947 में स्वतंत्रता प्राप्त होने तक 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा. इसके बाद 15 अगस्त 1947 को वास्तविक स्वतंत्रा प्राप्त करने के बाद इस दिन स्वतंत्रता दिवस मनाया जाने लगा. भारत के आज़ाद हो जाने के बाद संविधान सभा की घोषणा हुई और इसने अपना कार्य 9 दिसम्बर 1947 से शुरू किया. संविधान सभा के सदस्य भारत के राज्यों की सभाओं के निर्वाचित सदस्यों के द्वारा चुने गए थे.

26 जनवरी 1950 को कैसे लागू हुआ संविधान? | How did the constitution come into force on 26 January 1950 in hindi?


डॉ० भीमराव आंबेडकर, जवाहरलाल नेहरू, डॉ राजेन्द्र प्रसाद, सरदार वल्लभ भाई पटेल, मौलाना अबुल कलाम आजाद आदि इस सभा के प्रमुख सदस्य थे. संविधान निर्माण में कुल 22 समितीयां थी, जिसमें प्रारूप समिति (ड्राफ्टींग कमेटी) सबसे प्रमुख और महत्त्वपूर्ण समिति थी और इस समिति का कार्य संपूर्ण 'संविधान लिखना' या 'निर्माण करना' था. प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉ. भीमराव आंबेडकर थे. प्रारूप समिति ने और उसमें विशेष रूप से डॉ. आंबेडकर ने 2 साल, 11 महीने और 18 दिन में भारतीय संविधान का निर्माण किया और संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को 26 नवंबर 1949 को भारत का संविधान सुपूर्द किया.

पहली बार गणतंत्र दिवस (26 January) कब मनाया गया था? | When was Republic Day celebrated for the first time in hindi?


पहली बार गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 1950 को मनाया गया था. इस दिन भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने 21 तोपों की सलामी के साथ ध्वजारोहण किया था, और भारत को पूर्ण गणतंत्र घोषित किया था. तब से हर साल 26 जनवरी को भारत में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है.

26 जनवरी 2022 कौन सा गणतंत्र दिवस है? | Which Republic Day is 26 January 2022 in hindi?


26 जनवरी 2022 को भारत अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. इस बार गणतंत्र दिवस पर अलग यह होगा कि गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम 23 जनवरी यानी सुभाष चंद्र बोस जयंती से शुरू होगा, जबकि पिछले साल तक यह 24 जनवरी से शुरू होता था. वहीं, इस बार इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति नहीं जली होगी, क्योंकि इसका विलय राष्ट्रीय युद्ध स्मारक (नेशनल वॉर मेमोरियल )में कर दिया गया है.

गणतंत्र दिवस  (26 January) पर झंडा कौन फहराता है? | Who hoists the flag on Republic Day in hindi?


भारत के राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में आयोजित समारोह में ध्वजारोहण करते हैं. गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रपति भव्य परेड की सलामी लेते हैं. राज्यों में वहां के राज्यपाल राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं. वहीं, स्वतंत्रता दिवस पर दिल्ली में प्रधानमंत्री तिरंगा फहराते हैं और राज्यों में मुख्यमंत्री ध्वजारोहण करते हैं.

26 January | गणतंत्र दिवस | Republic Day 2022

आईये जानते हैं इस महान गणतंत्र दिवस राष्ट्रीय पर्व के बारे में कुछ खास महत्वपूर्ण बातें.


  1. भारतीय संविधान को बनने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था.
  2. 395 अनुच्छेदों और 8 अनुसूचियों के साथ भारतीय संविधान दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान है.
  3. 26 जनवरी 1950 को सुबह 10.18 मिनट पर भारत का संविधान लागू किया गया था.
  4. पूर्ण स्वराज दिवस (26 जनवरी 1930) को ध्यान में रखते हुए भारत के संविधान को 26 जनवरी को लागू किया गया था.
  5. इस दिन भारत के राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं.
  6. 26 जनवरी 1950 को डॉ.राजेन्द्र प्रसाद ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार हाल में भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी.
  7. गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर तिरंगा फहराया जाता है. फिर राष्ट्र गान गाया जाता है और 21 तोपों की सलामी होती है.
  8. राष्ट्रगान के दौरान 21 तोपों की सलामी दी जाती है. 21 तोपों की ये सलामी राष्ट्रगान की शुरूआत से शुरू होती है और 52 सेकेंड के राष्ट्रगान के खत्म होने के साथ पूरी हो जाती है.
  9. भारत के पहले गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो थे.
  10. 26 जनवरी, 1950 को पहली गणतंत्र दिवस परेड, राजपथ के बजाय तत्‍कालीन इर्विन स्‍टेडियम (अब नेशनल स्‍टेडियम) में हुई थी. उस वक्‍त इर्विन स्‍टेडियम के चारों तरफ चारदीवारी नहीं थी और उसके पीछे लाल किला साफ नजर आता था. 
  11. गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर वर्ष 1955 से होने लग गया और यहां सेना परेड करने लग गई.
  12. गणतंत्र दिवस के मौके पर अशोक चक्र और कीर्ति चक्र जैसे महत्वपूर्ण सम्मान दिए जाते हैं.
  13. इसके बाद हमारी सेना अपना शक्ति प्रदर्शन और परेड मार्च करती है.
  14. गणतंत्र दिवस की परेड (Republic Day Parade) राजपथ पर आयोजित होती है. यह परेड आठ किलोमीटर की होती है और इसकी शुरुआत रायसीना हिल से होती है. उसके बाद राजपथ, इंडिया गेट से होते हुए ये लाल किले पर समाप्‍त होती है. 
  15. 1957 में सरकार ने बच्चों के लिए राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार शुरू किया, जो कि 16 साल से कम उम्र के बच्चों को अलग-अलग क्षेत्र में बहादुरी के लिए गणतंत्र दिवस पर दिया जाता है.
  16. हर साल गणतंत्र दिवस पर राज्यों की झाकियां निकलती हैं, जिसका टीवी पर लाइव प्रसारण भी किया जाता है. गणतंत्र दिवस के मौके पर खासतौर पर झाकियां देखने के लिए कई लोग इंडिया गेट भी जाते हैं. 
  17. इस वर्ष से गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम 23 जनवरी यानी सुभाष चंद्र बोस जयंती (Parakram Diwas) से शुरू होगा, जबकि पिछले साल तक यह 24 जनवरी से शुरू होता था. 
  18. वर्ष 2022 में पहली बार राजपथ पर मार्चपास्ट करेगी 'फ्रांस की रेजीमेंट'

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2022 से जुडी कुछ रोचक सवाल और उनके जवाब | Most frequently asked questions about 26 January Republic Day 2022


गणतंत्र दिवस के लिए 26 जनवरी का दिन ही क्यों चुना गया?
26 जनवरी का दिन इसलिए चुना गया क्योंकि 26 जनवरी 1929 को अंग्रेजों की गुलामी के विरुद्ध कांग्रेस ने पूर्ण स्वराज का प्रस्ताव पास किया था.

गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस में क्या अंतर है?
गणतंत्र दिवस के दिन भारत का संविधान लागू हुआ था, जबकि स्वतंत्रता दिवस के दिन भारत को अंग्रेजी की लंबी गुलामी से आजादी मिली थी. इसलिए हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है.

इस साल हम कौनसा गणतंत्र दिवस मना रहे हैं?
भारत ने पहला गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 1950 में मनाया था. इस हिसाब से 2020 में 71वां गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है.

नई दिल्ली में आयोजित गणतंत्र दिवस अवसर पर भव्य परेड की सलामी कौन लेता है?
राष्ट्रपति

भारतीय संविधान का जनक किसे कहते हैं?
डॉक्टर भीमराव अंबेडकर

भारत ने अपना पहला गणतंत्र दिवस कब मनाया?
1950 में

भारत का राष्ट्रगान क्या है?
जन गण मन, रवींद्रनाथ टैगोर ने लिखा

भारत का राष्ट्रगीत क्या है?
वंदे मातरम, बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय ने लिखा

भारतीय संविधान बनने में कितना समय लगा था?
भारतीय संविधान को बनने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था.

26 जनवरी, 1950 को पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने तिरंगा कहां फहराया था?
इरविन स्टेडियम (अब मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम)

गणतंत्र दिवस पर झंडा कौन फहराता है?
गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं. स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री जबकि गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रपति ध्वज फहराते हैं.

गणतंत्र दिवस और स्वतंत्र दिवस में क्या अंतर है?
15 अगस्त 1947 में भारत आजाद हुआ, भारतीय संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को अपनाया गया और 26 जनवरी 1950 में इसे आधिकारिक रूप से लागू किया गया। तब से हर साल 26 नवंबर को राष्ट्रीय संविधान दिवस, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस और 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है.

इस वर्ष 2022 में गणतंत्र दिवस की कौन सी वर्षगांठ है?
इस साल देश 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है.


Topic covered


गणतंत्र दिवस (26 January) क्या होता है? | 26 जनवरी को ही गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है? | 26 जनवरी 1930 को क्या हुआ था? | गणतंत्र दिवस का इतिहास क्या है?| गणतंत्र दिवस से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण तथा रोचक तथ्‍य  | गणतंत्र दिवस (Republic Day 2022) 26 जनवरी 2022 से जुडी कुछ रोचक सवाल और उनके जवाब | गणतंत्र दिवस 26 जनवरी पर निबंध विस्तार से हिंदी में | गणतंत्र दिवस (26 January) पर भाषण विस्तार से हिंदी में | 26 january 2022 republic day hindi | republic day of India speech 2022 hindi

यह भी पढ़े





एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने